सोमवार, 16 अगस्त 2010

डीएस कंपनी के आगे शासन की नहीं चलती...

 रिंग रोड नंबर 1 में फोर लेन का निर्माण करने वाली कंपनी डी.एस. वायकान कंस्ट्रक्शन की दादागिरी के आगे शासन भी बेबस है। यहीं नहीं निगम की चेतावनी के बाद भी वह शहर के मध्य टैक्स वसूली नाका निर्माण कर ही है जिससे आने वाले दिनों में अप्रिय स्थिति निर्मित हो सकती है।
बताया जाता है कि कंपनी के कार्यप्रणाली से संतोषी नगर से लेकर रिंग रोड के किनारे निवासरत लोग वैसे भी परेशान रहे है। हालत यह है कि उसकी दादागिरी के आगे मंत्री तक बेबस हैं। इधर कंपनी ने शहर के मध्य टोल प्लाजा का निर्माण कर रही है इसका पता चलते ही निगम ने कंपनी को शहर के मध्य से टोल प्लाजा हटाने कहा है लेकिन टोल प्लाजा का निर्माण बंद नहीं हुआ है। कंपनी की इससे बड़ी उद्ंदता और क्या होगी कि उच्च न्यायालय भी टोल टैक्स की स्थापना को लेकर निर्देश जारी कर चुका है कि वसूली नाका शहर के मध्य न हो। इधर मामले को लेकर शहर कांग्रेस कमेटी ने भी मोर्चा खोल दिया है। शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष इंदरचंद धाड़ीवाल और महामंत्री डॉ. निरंजन हरितवाल ने आंदोलन की चेतावनी देते हुए रायपाल को ज्ञापन भी सौंपा है।
शहर कांग्रेस कमेटी ने ज्ञापन में कहा है कि डी.एस. वायकान कंस्ट्रक्शन कंपनी द्वारा शहर के मध्य रिंग रोड नंबर 1 पर दीनदयाल उपाध्याय, रोहणीपुरम एवं माधवराव सप्रे वार्ड, टाटीबंध, हीरापुर, सरोना आदि में रहने वाले 1 लाख से अधिक आवासीय नागरिकों को प्रतिदिन रोजमर्रे के लिए आने-जाने में हर बार टोल टैक्स देना पड़ेगा जिससे लोगों को अनावश्यक रुप से परेशानी होगी एवं उनकी जेब पर भारी बोझ पड़ेगा। इतना ही नहीं माननीय उच्चतम न्यायालय ने भी टोल टैक्स के संबंध में स्पष्ट निर्देश जारी किया है कि टोल टैक्स नाके शहर के अंदर कदापि न बनावे जावें एवं उन्हें शहर के बाहर ही स्थापित किए जावें परंतु डी.एस. वायकान कंस्ट्रक्शन कंपनी जिन्हें फोरलेन बनाने का ठेका दिया गया है उनके द्वारा शहर के अंदर निर्माण किया जा रहा है जो नियम विरुध्द एवं जनता को भारी परेशानी होगी एवं अनावश्यक आर्थिक बोझ भी पड़ेगा। अब आपसे अनुरोध है कि शहर व मध्य निर्माणाधीन टोल टैक्स नाके पर रोक लगाई जावें एवं उसे शहर के बाहर बनाने का आदेश देने की कृपा करें। इस संबंध में नगर निगम रायपुर द्वारा भी नोटिस जारी कर शहर के अंदर न बनाने कहा गया है परंतु उसके बावजूद भी उक्त कंपनी ने निर्माण बंद नहीं किया है।

4 टिप्‍पणियां:

  1. सरकार और सामाजिक सरोकार जनता को लूटने भर का रह गया है ऐसे में अब यही होगा जनता डरेगी तो लूटेगी या मरेगी..?

    उत्तर देंहटाएं
  2. आपका लेखन विश्व साहित्य की अनमोल धरोहर है. इसे आप भावी पीढ़ी के लिए संभाल कर रखें काम आएंगा
    आता रहूंगा आपके ब्लाग पर। आपको पढ़कर कोई भी गौरव का अनुभव कर सकता है। आपको तो बूकर पुरस्कार मिलना चाहिए
    देखिए कहीं फार्म वगैरह भरिए

    उत्तर देंहटाएं
  3. आप इतने बड़े पत्रकार है लेकिन आपके अनुयायी केवल 12 है। ऊपर जिन महान लोगों की आपने फोटो दी है कम से उतनी टिप्पणी तो आपको रोज आती होगी
    आपसे मुझे सदैव प्रेरणा मिलती रहेगी
    आपके अखबार का एक पाठक हूं और उसकी प्रसार संख्या भास्कर का भी रिकार्ड तोड़ रही है यह जानकार अच्छा लगता है। एक दिन आपका नाम गिनीज बुक आफ रिकार्ड में दर्ज होगा।
    बस आप फार्म तो भरिए पुरस्कार आपको मिलेगा ही.

    उत्तर देंहटाएं
  4. brujmohan ki khas company hai bhaiya, kaun kya ukhadega iska...... bataiye bhalaa.....

    उत्तर देंहटाएं